≡ Menu

8 साल से रोज ये शख्स तिरंगे को करने आता है ‘सलाम’… पुलिस ने की एक दिन पूछताछ की तो उड़ गए होश

जहाँ एक तरफ भारतीय तिरंगे को लेकर देश में 2 गुट बटे हुए है जो अपने अपने सिधान्तो पे रहकर देश का सम्मान करना चाहते है वही दूसरी तरफ भीड़ से अलग एक शक्स विधानभवन गेट के सामने न सिर्फ तिरंगे को सलामी देता है बल्कि राष्ट्रगान भी गाता है| जी हाँ, और ऐसा करते हुए उसे आठ साल हो चुके है|source

हाल ही में राष्ट्रभक्ति बढाने और देश के प्रति सम्मान के लिए कुछ नियम लागू किये गये है, जैसे सिनेमा हाल में फिल्म शुरू होने से पहले राष्ट्रगान होना कुछ कार्यस्थलो और शिक्षास्थलों पर तिरंगा फेह्राना आदी| लेकिन अभी हम जिस शक्स की कहानी आपको बताने जा रहे है उसकी कहानी काफी दिलचस्प है| गौर से पढ़े!

टोपी पहनकर रोज़ सुबह देता है तिरंगे को सलामी, लेकिन क्यों?

बीते सात सालो से एक शक्स विधानभवन गेट के सामने हैट पहनकर बिना किसी की परवाह करे तिरंगे को सलामी देते है और राष्ट्रगान भी गाते है| हर दिन जैसे ही घड़ी में सुबह नौ बजते है वह सीधे इस जगह हाजिर हो जाते है| इस शक्स का नाम है हीरालाल समंता जो दिल्ली में हजरतगंज के एक होटल में काम करते है| उन्होंने ऐसा करने के पीछे कारण बताया की वो युवा पीढ़ी में देशभक्ति की भावना जाग्रत करना चाहते है|

उन्होंने बताया, ‘मैं अपने देश से प्यार करता हूं और चाहता हूं कि हम बेहद कठिनाइयों से जो स्वतंत्रता मिली है लोग उसका आदर करें।’

एक फिल्म देखने के दौरान उन्हें ऐसा आईडिया आया

बंगाली बाबा नाम से मशहूर, हीरालाल एक छोटे से गाँव के रहने वाले है और 2010 में नौकरी के लिए लखनऊ आए थे। तिरंगे की सलामी वाला आईडिया उन्हें तब आया था जब वे एक मूवी हॉल में फिल्म देखते वक्त राष्ट्रगान गा रहे थे| तभी से ही उनकी दिनचर्या में राष्ट्र्गाना गाना और तिरंगे को सलामी देना शामिल हो गया| तीन बार वन्दे मातरम बोलने की बाद वे देशभक्ति से भर जाते है|source

उन्होंने बताया, ‘शुरुआत में कुछ पुलिसवाले हैरान हुए और मुझसे ऐसा करने की वजह पूछी। लेकिन जब उन्होंने मुझे रोजाना ऐसा करते देखा तो उन्होंने मेरी तारीफ की और कहा, ‘बंगाली बाबा अच्छा काम कर रहे हो’।

हीरालाल ओपी नैय्यर के फैन हैं और उन्हीं की तरह हैट पहनते हैं। उनके हैट पर तिरंगा बना हुआ है। उन्होंने बताया, ‘मेरे पास तिरंगे वाले तीन हैट हैं और इन्हें मैं कभी जमीन पर नहीं रखता।’

नोट: क्या हीरालाल जैसे व्यक्ति सिस्टम में कुछ बदलाव ला पाएंगे? हमे नीचे कमेंट कर जरुर बताएं और इसे शेयर भी करे.

Related Posts

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment