≡ Menu

अपनी भाषणों में हमेशा झूठ बोलते हैं पीएम मोदी, ये बाते पढ़कर आप भी अब कभी नहीं सुनेंगे कोई भाषण

नरेन्द्र मोदी एक बार फिर से अपने झूठे तथ्यों के लिए मीडिया में घिरते नज़र आ रहे है| ऐसा माना जाता है की नरेन्द्र मोदी ज्यदातर अपना भाषण देने से पहले होमवर्क नहीं किया करते जिस कारण बाद में उनकी बहुत किरकिरी होती है| बीते बुधवार को नरेन्द्र मोदी ने कर्नाटक के बीदर में एक रैल्ली की थी जहाँ उन्होंने अपने पंसदीदा विपक्ष पर एक बार फिर से हमला बोला|

मोदी ने भगत सिंह को लेकर कहा झूठ

मोदी ने कहा ‘कि देश की आजादी के लिए लड़ रहे महान शख्सियतों जैसे शहीद भगत सिंह, बटुकेश्वर दत्त जैसे नेताओं को अंग्रेजों ने जेल भेज दिया था, क्या कोई कांग्रेस नेता उनसे मिलने गया था?’ यही तथ्य पीएम के ट्विटर में भी डाल दिया गया था| हाल ही में मीडिया वेबसाइट ने इस बात का खुलासा किया की क्या पीएम सच बोल रहे है या फिर से झूठ|source

सामने आया है नरेन्द्र मोदी का झूठ

रिपोर्ट के मुताबिक नेहरु ने भगत सिंह और दुसरे कैदियों से जेल में मुलाकात की थी जिसका सबूत मिलता है समाचार पत्र द ट्रिब्यून द्वारा 10 अगस्त 1929 को दी गई खबर में| इसमें नेहरु ने कहा है

“मैं कल सेंट्रल जेल और बोरस्ट्राल जेल गया था और सरदार भगत सिंह, बटुकेश्वर दत्त, जतिन्द्रनाथ दास और लाहौर षडयंत्र केस के दूसरे कैदियों को देखा…ये सभी लोग भूख हड़ताल पर थे… जिन्हें जबरन नहीं खिलाया जा सका…वे लोग धीरे-धीरे मौत की और बढ़ रहे हैं, और लगता है कि दुख के वक्त को आने में ज्यादा देर नहीं लगेगा। जतिन्द्रनाथ दास की हालत खासकर खराब है…इन असामान्य बहादुर लोगों से मिलना मेरे लिए बहुत दुखदायी था, इन्हें तकलीफ झेलते हुए देखना पीड़ादायक था।”

source

नेहरु ने खुद अपनी जीवनी में बयाँ की अपनी और भगत सिंह की मुलाकात

नेहरू ने अपनी जीवनी में भी भगत सिंह से मुलाकात के बारे में लिखा है। नेहरू लिखते हैं, “मुझे जेल में कुछ कैदियों से मिलने की इजाजत दी गई, मैंने इसका लाभ उठाया, मैंने भगत सिंह को पहली बार देखा…उनका आकर्षक और बौद्धिक चेहरा था, वो शांत और गंभीर दिख रहे थे। वहां कोई गुस्सा नहीं दिख रहा था। उन्होंने बेहद भद्र तरीके से मुझे देखा और बात की। (1982 reprint, p 193).source

नोट: नरेन्द्र मोदी जिस तरह से विपक्ष पर निशाना साध रहे है उस तरह से तो वो अपने लिए ही मुसीबत खड़ी कर रहे है| क्या आप लोग सहमत है इस बात से? हमे नीचे कमेंट कर अपनी राय दें.

Related Posts

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment