≡ Menu

अभी-अभी : कर्नाटक चुनाव से ठीक पहले राहुल गांधी का हेलीकॉप्टर हुआ हादसे से शिकार

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी हाल ही में एक हादसे का शिकार होने से बच गये जिसे कांग्रेस ने साजिश करार दिया| दरअसल घटना उस समय की है जब राहुल गाँधी अपने चार्टर्ड प्लेन में दिल्ली से कर्नाटक के रास्ते में थे और तभी प्लेन में कुछ गडबडी का आभास हुआ| इसके बाद कांग्रेस ने इसके खिलाफ सख्त जांच के आदेश दिए|source

कांग्रेस ने इसके खिलाफ कर्नाटक पुलिस में शिकायत दर्ज करायी है| विमान खराबी के पीछे अन्तराष्ट्रीय टैंपरिंग की भी आशंका जताई जा रही है| इसके अलावा प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने भी राहुल गाँधी से फ़ोन पर घटना की पूरी जानकारी ली|

क्या है पूरा मामला?source

नयी दिल्ली से कर्नाटक के हुबली जा रहा राहुल गाँधी का 10 सीटर दसॉल्ट फॉकन 2000 एयरक्राफ्ट लैंडिंग के वक़्त रनवे से उतर गया था| विमान में स्वर राहुल के करीबी कौशल विद्यार्थी ने आरोप लगाया की विमान अचानक से बायीं ओर झुक गया और झटके लेने लगा| यही नही फ्लाइट के दौरान भी झटके लग रहे थे|

कौशल ने शिकायत में लिखी घटना की पूरी दास्तान बयान की

कर्नाटक के आईजी और डीजी नीलमणि राजू को दी शिकायत में कौशल ने लिखा, ‘मौसम साफ और सामान्य था, ऐसे में प्लेन का इस तरह से झटके लेना सही नहीं था।’ उन्होंने लिखा,

‘यात्रा के दौरान अस्पष्ट तकनीकी खराबियां आईं। सफर के दौरान करीब 10:45AM पर फ्लाइट असामान्य रूप से बाईं तरफ झुक गई और झटके के साथ नीचे आ गई। इस दौरान बहार का मौसम बेहद सामान्य था। इस दौरान फ्लाइट से अजीब सी आवाज भी सुनी जा सकती थी। साथ ही यह भी पता चला कि फ्लाइट का ऑटो पायलट मोड काम नहीं कर रहा था।’

source

इस घटना के बाद कर्नाटक के कांग्रेस महासचिव शाकिर सनादी ने इस घटना के लिए पायलटों को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। शिकायत में कहा कि गया कि विमान की हुबली एयरपोर्ट पर तीसरी बार में लैंडिंग हुई क्योंकि इससे पहले दो प्रयास असफल रह चुके थे। लैंडिंग के दौरान भी प्लेन बुरी तरह हिल रहा था और आवाजें आ रही थीं।

पायलट का अनुभव बेहद खराब

विद्यार्थी ने अपनी शिकायत में कहा, ‘फ्लाइट का जो अनुभव था, उससे हम बुरी तरह से डर गए थे और सभी लोगों को अपनी जान का खतरा लग रहा था। क्रू ने भी इस बात को माना है कि फ्लाइट में कुछ समस्याएं हुई थीं।’source

शिकायत में कहा गया, ‘मौसम ठीक था और उसके बाद भी प्लेन में आवाजें आना और लैंडिंग के वक्त उसका एक ओर को झुकना असामान्य था। इसकी वजह तकनीकी खराबी थी। इस मामले में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्लेन से छेड़छाड़ की संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता। इसकी जांच की जानी चाहिए।’

नोट: क्या राहुल गाँधी का प्लेन ख़राब होना किसी साजिश का हिस्सा था? क्या राहुल गाँधी को नुक्सान पहुचाने की कोई साजिश हुई थी? आप क्या समझते है इस घटना से, अपना जवाब नीचे कमेंट में जरूर लिखे!

Related Posts

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment