≡ Menu

पीएम मोदी ने स्मृति ईरानी और अरुण जेटली को मंत्री पद से हटाया… वजह जानकर चौंक जाएंगे आप

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी पार्टी में एक बहुत बड़ा फेरबदल किया गया है| केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से एक मंत्रालय छीन लिया गया है और पित्त मंत्री अरुण जेटली की तबियत के ख़राब चलते उनका मंत्रालय रेल मंत्री पियूष गोयल को दिया गया है| बहरहाल इस फेरबदल में चर्चा सबसे ज्यादा स्मृति ईरानी की ही हो रही है| आखिर उनसे क्यों सूचना प्रसारण मंत्रालय छीना गया?

विवादों के चलते ईरानी से छीना गया मंत्रालय

दरअसल लम्बे समय से स्मृति ईरानी विवादों के घेरे में रही है जिसके चलते माना जा रहा है की स्मृति से ये मंत्रालय ले लिया गया है| लेकिन उनसे मंत्रालय लिया जाना अब सवाल खड़े कर रहा है की क्या ईरानी का औदा गिर रहा है पार्टी में?source

इन विवादों के कारण स्मृति ईरानी खो बैठी सूचना प्रसारण मंत्रालय

जिन विवादों की चर्चा हम कर रहे है उन्ही के कारण स्मृति अब सिर्फ कपडा मंत्रालय की ही मंत्री रह गयी है| सूचना प्रसारण मंत्रालय दिया गया है- राज्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को| दरअसल, ईरानी ने प्रसार भारती के अध्यक्ष से कुछ नियुक्तियों को लेकर हुए विवाद के बाद सूचना और प्रसारण मंत्री इस स्वायत्तशासी संस्था के फंड पर रोक लगा दी थी। इसके अलावा ऑनलाइन वेबसाइटो के लिए नियमावली बनाने को लेकर भी वह विवादों में रही|

मोदी ने स्मृति के बदले फैसले

हाल ही में उन्होंने बतौर सूचना मंत्री एक ऐसा फैसला भी लिया था जिसे खुद प्रधानमन्त्री मोदी को बदलना पड़ा| पत्रकारों और ऑनलाइन वेबसाईटो द्वारा फेक न्यूज़ और झूठी खबरे फैलाने पर लगाम लगाने के लिए सजा का प्रावधान करने के मामले में भी उनकी कड़ी आलोचना हुई|source

खुद को राष्ट्रपति से ऊपर रखना चाहती थी स्मृति

नया विवाद उन्हें लेकर तब हुआ था जब राष्ट्रीय पुरूस्कार बांटते वक़्त स्मृति इरानी ने उसपे हस्तक्षेप किया था| राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सार्वजनिक कार्यक्रमों को लेकर केवल एक घंटे देने का समय बनाया था लेकिन ईरानी ने इस दौरान 130 पुरस्कारों में से केवल 11 राष्ट्रपति के हाथों दिलाने और शेष खुद देने का फैसला किया| इस वजह से 60 गणमान्य हस्तिया अपना पुरूस्कार लेने पहुची ही नही थी|

इस विवाद पे राष्ट्रपति भवन ने नाराज़गी जताई थी| सूचना मंत्री रहते हुए भी उनकी इस दौरान आलोचना हुई थी| सूचना और प्रसारण मंत्रालय से हटाई गईं स्मृति ईरानी हाल में कई विवादों को लेकर सुर्खियों में थी। इन्हीं विवादों के चलते उन्हें इस अहम मंत्रालय से हटाया गया।

नोट: क्या बीजेपी की सबसे कद्दावर नेता स्मृति ईरानी अपना औदा पार्टी में खोती जा रही है? अपनी राय नीचे कमेंट कर जरुर दें और इस खबर को भी शेयर करे.

Related Posts

{ 0 comments… add one }

Leave a Comment